IMPS Kya Hai और कैसे काम करता है?IMPS in Hindi

IMPS kya hai

क्या आप जानते हैं की IMPS kya hai – What Is IMPS In Hindi?

आप में से बहुत लोग होंगे जो ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करने के लिए IMPS का इस्तेमाल करते होंगे|

लेकिन बहुत से ऐसे लोग भी होंगे जिन्होंने IMPS के बारे में सुना तो होगा लेकिन कभी IMPS का इस्तेमाल नही किया होगा|

आज हम आपको इस article में IMPS के बारे में साड़ी जानकरी प्रदान करेंगे की IMPS kya hai, कैसे काम करता hai और आप किस तरह IMPS से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं|

IMPS का full form – “Immediate Payment Service” है यानि की “ततकाल भुगतान सेवा”|

RTGS, NEFT की तरह IMPS भी इन्टरनेट बैंकिंग के ज़रिये पैसे ट्रांसफर करने का एक तरीका है|

IMPS ऑनलाइन बैंकिंग सिस्टम की वो जिसके अंतर्गत आप Real Time में पैसों को एक अकाउंट से दुसरे अकाउंट में भेज सकते हैं|

IMPS के काम करने का तरीका इसके नाम से ही स्पष्ट हो जाता है|

RTGS और NEFT में पैसों में लेन-देन में कुछ समय लग जाता है लेकिन IMPS पैसों का लेन-देन करने वाली तत्काल सेवा है|

IMPS को भारत में NPCI(National Payment Corporation of India) ने 22 नवंबर 2010 को RTGS और NEFT के बाद लागू किया था|

IMPS मज़बूत और real time इंटरबैंक इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रांसफर सेवा प्रदान करता है जिसे मोबाइल, ATM, SMS, इंटरनेट जैसे कई चैनल पर आसानी से एक्सेस किया जा सकता है|

IMPS मज़बूत और तेज़ होने के साथ-साथ अत्यंत सुरक्षित और किफायती भी है|

यह सुविधा National Payment Corporation of India के द्वारा अपने National Financial Switch के माध्यम से प्रदान की जाती है|

NPCI के लाइव मेम्बेर्स की लिस्ट देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें – NPCI Live Members

IMPS की शुरुआत कैसे हुई?

बैंकिंग इंडस्ट्री के सामने इस बात की एक बहुत बड़ी चुनौती थी की real time में या 24x7x365 में इंटर बैंक फण्ड ट्रांसफर को सरल कैसे बनाया जाए|

बैंकिंग समय के दौरान पैसों को ट्रांसफर करने के लिए केवल NEFT और RTGS की सेवा ही मौजूद थी|

इस सब चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए NPCI ने अगस्त 2010 में State Bank of India, BOI, Union Bank of India और ICICI bank के सस्थ मिलकर मोबाइल पेमेंट सिस्टम पर एक pilot अध्ययन किया|

इस अध्ययन में बाद में Yes bank, Axis bank और HDFC bank भी शामिल हो गए|

NPCI ने बांको के साथ अध्ययन करने के बाद IMPS को 22 नवंबर 2010 को Smt. Shyamala Gopinath द्वारा जनता के उपयोग के लिए लांच कर दिया गया|

वर्तमान समय में IMPS पर 639 सदस्य हैं जिनमे banks और PPI (Prepaid Payment Instrument) शामिल हैं|     

हम उम्मीद करते हैं की आप लोग अच्छे से जान गए होंगे की IMPS kya hai. अब हम ये जानते हैं की किस तरह IMPS के ज़रिये फण्ड ट्रांसफर करते हैं|

लेकिन इससे पहले आपको IMPS से लेन-देन के लिए कुछ बातें जानने की आवश्यकता है|

अगर IMPS द्वारा पैसे भेजना चाहते हैं तो आपको नीचे बताई गयी चीज़ों की ज़रूरत होगी|

  1. आपके पास मोबाइल बैंकिंग या नेट बैंकिंग की सेवा होनी चाहिए| अगर आपके पास नेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग नही तो आपको इसके लिए apply कर सकते हैं|
  2. आपके पास MPIN और MMID नंबर  होना चाहिए|
  3. मोबाइल बैंकिंग या नेट बैंकिंग के लिए एप्लीकेशन या सॉफ्टवेर डाउनलोड होना चाहिए|

MPIN और MMID क्या होता है?

MPIN – MPIN का full form “Mobile Banking Personal Identification” नंबर होता है| यह नंबर मोबाइल में पैसों के भुगतान को पूरा करने के लिए एक पासवर्ड के रूप में काम करता है|

यह MPIN नंबर 4 या 6 अंकों का होता है|

MMID – MMID का full form “Mobile Money Identification” नंबर होता है| यह 7 अंकों का नंबर होता है जिसे bank द्वारा रजिस्ट्रेशन के बाद दिया जाता है जो की IMPS भुगतान को पूरा करने के लिए अनुमति देता है|

IMPS के माध्यम से फण्ड ट्रांसफर कैसे करें?

Online या Net banking के ज़रिये IMPS का इस्येमाल कैसे करें?

नीचे हमने स्टेप्स दिए हैं जिनकी मदद से आप ऑनलाइन या नेट बैंकिंग के माध्यम से IMPS द्वारा पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं:

1. सबसे पहले अपने bank के नेट बैंकिंग अकाउंट में लॉग इन करें|

2. फण्ड ट्रांसफर करने के लिए नीचे दी गई detail enter करके bebeficiary को add करें (beneficiary मतलब जिसे आप पैसे भेजना चाहते हैं|)

  • Beneficiary का अकाउंट नंबर
  • Account type
  • IFSC (Indian Financial System Code) code
  • Beneficiary का नाम
  • Bank की ब्रांच का नाम और address

3. Beneficiary की डिटेल enter करने के बाद आपको फण्ड ट्रांसफर option पर जाना होगा|

4. अब आपको लिस्ट में से beneficiary को select करने होगा जिसे आप फण्ड ट्रांसफर करना चाहते हैं|

5. Amount enter करें जो आप ट्रांसफर करना चाहते हैं|

6. अंत में पेमेंट को कन्फर्म कर के ट्रांसफर करें|

7. पेमेंट सफलतापूर्वक ट्रांसफर होने के बाद आपको bank की तरफ से transaction नंबर दिया जाएगा जिसका इस्तेमाल आप कोई दिक्कत आने पर कर सकते हैं|

Mobile Banking के ज़रिये IMPS का इस्तेमाल कैसे करें?

Mobile बैंकिंग के माध्यमस इ IMPS का उपयोग करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करें:

Mobile banking द्वारा IMPS का उपयोग करने के लिए आपको beneficiary का नाम, MMID नंबर और मोबाइल नंबर पता होना चाहिए|

1. अपने bank की Mobile banking app में लॉग इन करें|

2. IMPS option पर send money या transfer fund tab पर क्लिक करें|

3. अब beneficiary का मोबाइल नंबर, जितना अमाउंट ट्रांसफर करना चाहतें हैं उतना अमाउंट enter करें और beneficiary का MMID नंबर enter करें|

4. इसके बाद fund transfer को वैध करने के लिए अपना MPIN enter करें|

5. MPIN verify होने के बाद beneficiary को फण्ड ट्रांसफर हो जाएगा और आपके नंबर पर फण्ड ट्रांसफर सफल होने का message भी आ जाएगा|

Features of IMPS

1. IMPS में फण्ड ट्रांसफर करना अत्यंत सरल और तेज़ है|

2. IMPS के अम्ध्यम से आप अवकाश वाले दिन भी पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं|

3. पैसो के भुगतान की यह सेवा सुरक्षित है|

4. पैसे ट्रांसफर करने की यह सर्विस 24 घंटे मौजूद रहती है|

5. इसमें fund transfer करने के कोई charges नही लगते हैं|

6. आप SMS के माध्यम से भी IMPS की सेवा का लाभ उठा सकते हैं|

निष्कर्ष: IMPS Kya Hai – What is IMPS in Hindi?

तो यह था हमारा article IMPS in hindi के उपर| हम आशा करते हैं की आपको IMPS के बारे में डिटेल से जानकरी मिल गयी होगी|

अगर आपको यह article पसंद आया हो तो इसे सोशल मीडिया पर ज़रूर शेयर करें|

यदि आपको कोई दिक्कत आती है तो हमसे ज़रूर सम्पर्क करें|

धन्यावद|

Vijay Kumar

CashFlow INDIA की स्थापना अंतरराष्ट्रीय स्तर पर Vijay Kumar ने की है। अपने दो ऑनलाइन और दो ऑफ़लाइन व्यवसायों के साथ असफल होने के बाद, उन्होंने रास्ते में सीखे गए सबक सिखाने के लिए CashFlow INDIA बनाया। CashFlow INDIA को लॉन्च करने के बाद से, Vijay ने जल्द ही रणनीतियों को प्रकाशित करके खुद के लिए एक नाम बना लिया, जिसका उपयोग मार्केटर अपने ऑनलाइन व्यवसाय को बढ़ाने के लिए कर सकते हैं। CashFlow INDIA अब सबसे लोकप्रिय हिन्दी ब्लॉगों में से एक है।

Leave a Reply