what is Ethereum (Ethereum kYA HAI in Hindi )

नमस्कार , दोस्तों क्या आप जानते है कि एथेरियम क्या है या फिर एथरियम को बनाने का लक्ष्य क्या है | अगर नही पता तो निशित हो जाईये हम आपको ethereum के बारे सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करेगे तो चलिए शुरू करते है तो ethereum ने साल 2015   मे  करेंसी की दुनिया मे पहला कदम रखा था जिससे तब से लेकर  आज तक इसकी वैल्यू  अभी तक सात हजार प्रतिशत तक बढ़ चुकी है | इस समय एक ethereum की कीमत लगभग पाच सौ डोलर के करीब हो चुकी है | अगर हम बिट कॉइन के बाद यदि किसी दूसरी करेंसी की बात करे तो वो ethereum है | ethereum जो है ये एक डिजिटल करेंसी है आपको थोडा और विस्तार से बताती हु कि ethereum क्या है |

Ethereum जिसे हम एथेर के नाम से भी जानते है ये एक डिजिटल मुद्रा है जिसका यूज़ एथेरियम नेटवर्क पर स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट के सचालन के लिए किया जाता है | बिट कॉइन की तरह एथेरियम नेटवर्क और ईथर टोकन किसी भी बैंक या सरकार द्वारा नियत्रित या जारी नही किये जाते है | इसके आलावा ये एक ओपन  सोर्स नेटवर्क है जिसे इसके उपयोगकर्ताओ द्वारा प्रबधित किया जाता है | इनका ट्रांसलेशन डीसेंटलाइज नजर मे रखा जाता है | जिसे ब्लाक चेन भी कहते है |

ethereum जिसे तीसरा सबसे ज्यदा वैल्युएबल डिजिटल मनी है बिट कॉइन के वाद और जिसकी मार्किट वैल्यू दुसरे स्थान मे है अभी ये जिस टेक्नोलॉजी पर काम करती है उसे ethereum ब्लाक चेन कहा जाता है इसे सवसे पहले एक बिट कॉइन प्रोग्रामर जिनका name वितालिक बुतेरिन ने सन 2013 मे सबसे पहले दुनिया के सामने लाया गया था और उसके बाद इस क्रिप्टो करेंसी ने अपनी पॉपुलैरिटी को बहुत ही कम समय मे बहुत उपर तक ले लिया है यदि अभी की समय की वैल्यू की बात करे तो कोई करीब $46 बिलियन जो की लगभग $480 प्रति कॉइन है ये प्राइस उपर नीचे होते रहती है |    

बुतेरिन ने ethereum को कुछ इस प्रकार से इम्प्रूव किया कि ये बित्कोइन के मुकाबले बहुत हद तक बेहतर है बित्कोइन के जैसे ही ये एक decentralised पेमेंट नेटवर्क है जिसकी अपनी क्रिप्टो ग्राफ़िक करेंसी है जिसे की दुनिया मे हम किसी भी जगह को इन्टरनेट की मदद से भेज सकते है और ऐसा करने के लिए हमे किसी बैंक या थर्ड पार्टी के ऊपर निर्भर नही होना पड़ेगा |

Ethereum के यूज़

Ethereum मे ब्लाक चेन आधारित क्रिप्टो करेंसी की लोकप्रियता दिन प्रति दिन बढ़ रही है क्युकी वे अधिक पारम्परिक भुगतान विधियों के लिए एक व्यवहार्य विकल्प का प्रतिनिधित्त्व करते है | ये एथेरियम एक विकेंद्रीकृत मंच है जो बिना किसी डाउनटाइम धोखाधडी सेसरशिप के तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप के बिना अनुप्रयोगों को चलाने की अनुमति देता है |

क्रिप्टो करेंसी दुनिया मे कही भी भेजी या प्राप्त की जा सकती है और बैंक तारो या यहाँ तक की अच्छे भुगतानों के लिए कम लगत वाला विकल्प से सकती है |  इसके आलावा ईथर द्वारा भेजे गए फण्ड बहुत तेजी से साफ हो सकते है | क्लियर किये गए भुगतान की यह गति बहुत महत्त्पूर्ण हो सकती है , क्युकी चेक या इलेक्ट्रॉनिक ट्रासफर को स्पष्ट होने मे अक्सर 14 या 15 दिन लग सकता है विदेशो मे भेजे गए फण्ड भी मुद्रा रूपान्तर की आवश्यकता को समाप्त कर देते है |

Ethereum मे इन्वेस्ट करना –

Ethereum मे इन्वेस्ट  की बात करे तो इसके जो मूल्य है समय समय पर इसका मूल्य बढ़ता है | इसमें क्रिप्टो कर्रेंसी का मूल्य कोई वास्तविकता नही होता है और इसमें उतार चड़ाव होता रहता है |  अगर आप ethereum मे इन्वेस्ट कर रहे है तो इसमें आपको कितना इन्वेस्ट करना इस सबका ध्यान भी आपको रखना है क्युकी क्रिप्टो करेंसी जितनी ज्यादा इसका प्राइज बढ़ता है उतनि ही जलती कम भी होता है |

इसके आलावा अगर ईथर को खरीदना चाहते है तो क्रिप्टो करेंसी को ऑनलाइन प्लेटफार्म के जरिये खरीदा जाता है उसी तरह आपको ईथर को भी ऑनलाइन ही खरीदना होता है |  भारत मे क्रिप्टो करेंसी खरीदने के लिए जैसे – BUYUCOIN , zebpay, BITBNS, ऐसे कही सारे ऑनलाइन वोलेट app है इसके साथ साथ wazirx, COINSWITCH , COINSWITCH KUBE इन जैसे कही एक्सचेंज मार्किट मे उपलब्ध है जिनके मदद से आप आसानी से कौन से भी क्रिप्टो करेंसी को खरीद या बेच सकते है |   

Ethereum का प्राइस कैसे बनता है ?

जब ethereum की शुरुआत हुई है तब से इसका मूल्य धीरे –धीरे बढ़ रहा है वही बित्कोइन की प्राइस मे काफी जल्दी बढ़ोत्तरी आने लगी है कुछ समय बीच मे ethereum के प्राइस  कमी आई थी जो की गलत अफवाह के कारण इसका प्राइस कोई 20% तक कम हो गया था लेकिन उसके बाद दिन प्रति दिन ethereum के प्राइस मे अच्छा इन्वेस्ट देखने को मिल रहा है जिसके कारण अब इसके मूल्य मे बढ़ोत्तरी होती रहती है |

Ethereum का फ्यूचर –

अगर हम ethereum के फ्यूचर की बात करे तो इसकी उत्पति से लेकर ethereum की मूल्य लगातार बढती ही जा रही है निवेशको का मानना है की इसकी बढ़ोत्तरी  इसी प्रकार होती रहेगी | इसके आलावा आगे आने वाले सालो मे कोई निवेशक इसमें निवेश करना चाहता है तो वो विना किसी प्रकार की झिझक के निवेश कर सकता है |

लेकिन ethereum मे निवेश करने के लिए आपको इसमें सोच समझ कर धन राशी लगानी  चाहिए  जितनी आपके पास बचत हो इसके आलावा निवेश करने से पहले अच्छे से रिसर्च करनी चाहिए क्युकी  ethereum का भविष्य कभी भी बदल सकता है |

जब Ethereum की शुरुआत हुई है तब से इसका मूल्य धीरे –धीरे बढ़ रहा है वही बित्कोइन की प्राइस मे काफी जल्दी बढ़ोत्तरी आने लगी है कुछ समय बीच मे ethereum के प्राइस ई कमी आई थी

जो की गलत अफवाह के कारण इसका प्राइस कोई 20% तक कम हो गया था लेकिन उसके बाद दिन प्रति दिन ethereum के प्राइस मे अच्छा इन्वेस्ट देखने को मिल रहा है जिसके कारण अब इसके मूल्य मे बढ़ोत्तरी होती रहती है |

Ethereum मे स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट्स

Ethereum मे स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट क्या है अब इसके बारे मे जानते है तो स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट ये अपने आम कॉन्ट्रैक्ट की तरह ही होते है लेकिन इसमें फर्क सिर्फ इतना है कि ये पूरी तरह से डिजिटल फॉर्मेट मे होते है  स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट का प्रयोग धन , सामग्री , शेयर , आदि का आदान –प्रदान करने हेतु किया जाता है |

साधरण शब्दों मे समझे तो स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट ये एक तरह का कंप्यूटर का छोटा सा प्रोग्राम ही होता है जो ब्लाक चेन मे स्टोर होता है ब्लाक चेन पर चलने पर स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट self ऑपरेटिंग कंप्यूटर के प्रोग्राम की तरह होता है और विशिट परिस्थियों को पूरा करने के लिए स्वयचलित  रूप से एक्सीक्यूट भी होता है | स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट ब्लाक चेन के जरिये ही स्टोर किया जाता है इस कारण वो बहुत ही सुरक्षित होते है क्युकी ब्लाक चेन ये इम्मुताब्ले और डिस्ट्रिब्यूटेड प्राणली है |

इसके आलावा स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट मे एक बार IMMUTABLE मतलव की एक बार स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट बनने के बाद उसमें कोई वदलाव  नही कर सकते है और डिस्ट्रिब्यूटेड का मतलव है की आपके नेटवर्क मे जो भी कंप्यूटर है उनकी अनुमति मिलने पर पूरा होता है |

स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट बहुत से क्षेत्र मे उपयोग हो सकता है जैसे की बैंक मे इसका यूज़ होता है – लोन रिलीज करने के लिए , postal कम्पनी मे डिलीवरी करने के लिए आदि | इसके आलावा बिट कॉइन की तेच्नोलोग्य्मै इसका यूज़ किया जाता है लेकिन ethereum पूरी तरह से स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट पर ही चलता है |

बिट-कॉइन और Ethereum मे अंतर

जैसा की हम सभी जानते है की दुनिया की जो पहली करेंसी थी वो क्रिप्टो बित्कोइन थी तब से लेकर इसके प्राइस मे बढ़ोत्तरी ही हो रही है वैसे तो बिट कॉइन सभी क्रिप्टो मे सफल रही लेकिन ये परफेक्ट क्रिप्टो करेंसी नही बन पाई | जिस कारण मार्किट मे और भी क्रिप्टो करेंसी आइ जिसमे से ईथर भी एक है तो चलिए जानते है की बिट –कॉइन और ईथर मे क्या अंतर है –

  1. ईथर के नेटवर्क पर बिट –कॉइन के मुकाबले टँश्रॅटीण को पूरा होने मे बहुत ही कम समय लगता है और ईथर पर बित्कोइन के मुकाबले कम ट्रांसएक्शन फीस लगती है |
  2. ईथर मार्किट मे हर साल अठारह मिलियन नए अनलिमिटेड सप्लाई COINS आते है लेकिन दूसरी तरफ नए बित्कोइन मार्किट मे सिर्फ माइनिंग से ही आते है और इनकी सख्या बहुत ही कम होती है |
  3. ईथर के नेटवर्क पर बिट-कॉइन के मुकाबले ट्रांसएक्शन को पूरा करने मे बहुत कम समय लगता है |
  4. बिट-कॉइन सिर्फ एक क्रिप्टो करेंसी है लेकिन एथरियम ईथर क्रिप्टो करेंसी ब्लाक चैन प्लेटफार्म पर एप्लीकेशन भी बिल्ट करके इसका इस्तेमाल तथा पर्सनल डाटा ट्रांसफर या स्टोर करने के लिए कर सकते है या फिर इसका यूज़ जटिल फिनासिअल ट्रांसएक्शन के लिए भी कर सकते है |  

निष्कर्ष –

.फ्रेंड्स , तो ये था हमारा आर्टिकल Ethereum kya hai इससे सम्बधित | अगर आपको हमारा आर्टिकल अच्छा लगा हो तो हमे नीचे कमेंट बॉक्स मे जरुर रिप्लाई करे तथा इसे अपने ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया ग्रुप्स मे शेयर करे

धन्यवाद |

Leave a Reply